Skip to content

Omicron kya hai in hindi

omicron kya hai in hindi

Omicron kya hai in hindi जैसा की आप लोग जानते ही है की वर्ष 2019 भारत के लिए नहीं बल्कि विश्व के लिए ही दुखद भरा रहा। किसी न किसी ने अपने या अपने किसी रिश्तेदारों या फिर दोस्तों को जरूर खोया होगा। वर्ष 2019 किसी भी सेक्टर के लिए कही से भी अच्छा साबित नहीं हुआ।

देश में कोरोना के बढ़ते मामले जहाँ बढ़ रहे थे और दिनबदिन चरमराती हुई स्वास्थय सेवाएं एक पल पल अपना दम तोड़ रही थी। दोस्तों आज हम इस पोस्ट में जानेंगे की omicron क्या है? क्या यह वायरस पुराने कोरोना वायरस का ही दूसरा रूप है? या फिर कोई दूसरा नया वायरस है जिसने पिछले कुछ महीनो से तहलका मचा रखा है। जी दोस्तों इस वायरस ने अब भारत में भी पैर पसारना शुरू कर दिया है।

Omicron kya hai in hindi

Omicron वायरस कोरोना का ही एक नया रूप है जिसने विदेशो में तो कहर मचा ही रखा है साथ ही साथ अब यह वायरस भारत में भी काम करने लगा है Omicron वायरस SARS-CoV-2 का ही एक नया रूप है या यूं कहा जाए की यह कोरोना का ही एक नया रूप है। इस प्रकार का पहला इंन्फेक्शन दक्षिणी अफ्रीका में पाया गया है। जिसे बेहद ही खतरनाक बताया जा रहा है।

Omicron Virus के क्या है लक्षण

सामान्य तौर पर इस Omicron virus के सभी लक्षण ठीक कोरोना वायरस के लक्षणों के जैसे ही है। वैसे इस Omicron वायरस के लक्षण कुछ इस प्रकार से है:-

  • बहुत थकान होना
  • पुरे शरीर में दर्द होना
  • सर डार्ट नहीं होना
  • गले में खराश होना
  • सुखी खासी आना

क्या होता है म्युटेशन (mutation)?

Mutation का मतलब किसी भी प्रकार के बदलाव से है जैसा की आपको पता होगा की कोरोना वायरस ने किए रूप बदले है जिसकी वजह से हमें वैक्सीन में भी बदलाव पड़े बल्कि कई विशेषज्ञों का मानना है की यदि वायरस में mutation हुआ हो तो फिर उसी वायरस से लड़ने के लिए वैक्सीन में भी वदलाव जरुरी है। mutation के दौरान दी जाने वाली वैक्सीन में भी बदलाव होने ही चाहिए।

सबसे पहले Omicron का पहला मरीज किस देश में और कब मिला?

Omicron का पहला मरीज दक्षिणी अफ्रीका में 24 नवंबर 2021 को मिला। यह संक्रमण एक 30 वर्षीय युवक में मिला। भारत में इस omicron वायरस की एंट्री कर्णाटक से हुई थी।

जानिए omicron कितना खतरनाक है?

जितना खतरनाक इस virus को बताया जा रहा है उससे कहीं जयादा जरुरी है की इस वायरस से सावधान रहा जाये हमारे कहने का मतलब यही है की आपको किसी भी ऐसे वायरस से डरने की जरुरत नहीं है बल्कि अपने सुरक्षा की दृष्टि से अपने आप को हर तरीके से तैयार रखना है। अपने घरो से निकलते हुए मास्क का जरूर इस्तेमाल करें और सोशल डिस्टेंस के सभी नियमो का पालन करें।

क्या सावधानिया बरतनी चाहिए?

कोरोना जैसे खतरनाक वायरस से बचने के लिए जो दिशानिर्देश जारी किये गए है वे पर्याप्त है जिनका पालन कर बड़े ही आसानी से अपने आप को कोरोना जैसे खतरनाक वायरस से अपनी सुरखित कर सकते है। आपको सरकारी नियमो के अनुसार नीचे लिखे हुए सभी नियमो का बड़े ही कड़ाई से पालन करना चाहिए।

1. सामाजिक दूरी को बनाये रखना

सरकारी नियमो के अनुसार प्रत्येक व्यक्ति को आपस में social distancing का ध्यान रखना ही होगा क्योंकि ऐसा वायरस जो हवा में भी फैल सकता है वह वायरस श्वास के माध्यम से भी फ़ैल सकता है। आपस में कम से कम 2 गज की दुरी जरूर रखे।

2. Mask का प्रयोग जरूर करे

अपने घरो से बाहर निकलने परे मास्को का प्रयोग जरूर करें क्योंकि face mask एक ऐसा element है जिसे आप अपने पास कोरोना से लड़ने में एक हथियार की तरह इस्तेमाल कर सकते हो।

3. Hand Sanatiser का इस्तेमाल करें

कोरोना काल के समय हैंड sanatiser का इस्तेमाल बढ़ गया। हैंड sanatiser का इस्तेमाल आप रास्ते में कर सकते है। Sanatiser का प्रयोग आपको वायरस से बचाता है।

Tags:

Leave a Reply

Your email address will not be published.